एक कुत्ते कि कहानी लालच बुरी बला

लालच बुरी बला है| हमें कभी भी लालच नहीं करना चाहिए|  जो भी इंसान लालच करता है वह अपनी लाइफ में कभी भी खुश नहीं रह सकता|  हमें अपनी मेहनत या किस्मत का जितना भी मिल गया| उससे अपना काम निकालना चाहिए 

एक कुत्ते कि कहानी लालच बुरी बला
Lalach Buri Bala Moral Story

एक कुत्ते कि कहानी लालच बुरी बला

एक गाँव में एक कुत्ता था|  वह बहुत लालची था| वह भोजन की खोज में इधर – उधर भटकता रहा|  लेकिन कही भी उसे भोजन नहीं मिला| अंत में उसे एक होटल के बाहर से मांस का एक टुकड़ा मिला| वह उसे अकेले में बैठकर खाना चाहता था| इसलिए वह उसे लेकर भाग गया| एकांत स्थल की खोज करते – करते वह एक नदी के किनारे पहुँच गया| अचानक उसने अपनी परछाई नदी में देखी| उसने समझा की पानी में कोई दूसरा कुत्ता है जिसके मुँह में भी मांस का टुकड़ा है |

उसने सोचा क्यों न इसका टुकड़ा भी छीन लिया जाए तो खाने का मजा दोगुना हो जाएगा| वह उस पर जोर से भौंका|  भौंकने से उसका अपना मांस का टुकड़ा भी नदी में गिर पड़ा| अब वह अपना टुकड़ा भी खो बैठा| अब वह बहुत पछताया तथा मुँह लटकाता हुआ गाँव को वापस आ गया|

इस कहानी से हमें क्या शिक्षा मिलती है आइये जाने 

लालच बुरी बला है| हमें कभी भी लालच नहीं करना चाहिए|  जो भी इंसान लालच करता है वह अपनी लाइफ में कभी भी खुश नहीं रह सकता|  हमें अपनी मेहनत या किस्मत का जितना भी मिल गया| उससे अपना काम निकालना चाहिए 

लेकिन अगर हम थोड़ा ज्यादा के चक्कर में लालच करेंगे तो हमारे पास अभी जितना है उससे भी हाथ धोना पड़ सकता है|  इसलिए कहते है ज्यादा लालच अच्छा नहीं होता| अपने सुना ही होगा 

उम्मीद है कहानी अच्छी लगी होगी आप सभी को 

like
545
dislike
164
love
236
funny
271
angry
118
sad
112
wow
195

यदि आप एक अच्छे लेखक हैं तो हमारे वेबसाइट पर लेख लिखकर अब पैसे भी कमा सकते हैं | वेबसाइट पर मुफ्त पंजीकरण के लिए यहाँ क्लिक करें ।